Connect with us

Hindi

Bjp Mp Varun Gandhi Took Pain Of Medical Students Returned From Ukraine – सांसद वरुण गांधी बोले: यूक्रेन से लौटे छात्रों के सामने एक तरफ युद्ध की कड़वी स्मृतियां तो दूसरी ओर अधर में लटका भविष्य

Published

on


{“_id”:”62244c38472be754ec5ee113″,”slug”:”bjp-mp-varun-gandhi-took-pain-of-medical-students-returned-from-ukraine”,”type”:”story”,”status”:”publish”,”title_hn”:”सांसद वरुण गांधी बोले: यूक्रेन से लौटे छात्रों के सामने एक तरफ युद्ध की कड़वी स्मृतियां तो दूसरी ओर अधर में लटका भविष्य”,”category”:{“title”:”City & states”,”title_hn”:”शहर और राज्य”,”slug”:”city-and-states”}}

अमर उजाला नेटवर्क, पीलीभीत
Published by: शाहरुख खान
Updated Sun, 06 Mar 2022 11:22 AM IST

सार

सांसद वरुण गांधी ने अपने ट्वीट में कहा कि यूक्रेन विवाद ने हजारों छात्रों को मानसिक रूप से तोड़ दिया है। एक तरफ युद्धभूमि की कड़वी स्मृतियां हैं। दूसरी तरफ अधर में लटका हुआ भविष्य। 

वरुण गांधी

वरुण गांधी
– फोटो : एएनआई

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

पीलीभीत से भारतीय जनता पार्टी के सांसद वरुण गांधी ने रविवार को सुबह दस बजे ट्वीट कर यूक्रेन से लौटे मेडिकल स्टूडेंट्स का दर्द उठाया है। उन्होंने यूक्रेन से भारत वापस आए छात्र-छात्राओं को आगे की पढ़ाई के लिए देश के संस्थानों में समायोजित करने पर सुझाव दिया है।

सांसद वरुण गांधी ने अपने ट्वीट में कहा कि यूक्रेन विवाद ने हजारों छात्रों को मानसिक रूप से तोड़ दिया है। एक तरफ युद्धभूमि की कड़वी स्मृतियां हैं। दूसरी तरफ अधर में लटका हुआ भविष्य। 

उनका कहना है कि हमें नियमों को शिथिल कर भारतीय संस्थानों में इन छात्र छात्राओं का समायोजन करना होगा। छात्र-छाक्षाओं और उनके अभिभावकों की चिंता, हमारी चिंता होनी चाहिए।

विस्तार

पीलीभीत से भारतीय जनता पार्टी के सांसद वरुण गांधी ने रविवार को सुबह दस बजे ट्वीट कर यूक्रेन से लौटे मेडिकल स्टूडेंट्स का दर्द उठाया है। उन्होंने यूक्रेन से भारत वापस आए छात्र-छात्राओं को आगे की पढ़ाई के लिए देश के संस्थानों में समायोजित करने पर सुझाव दिया है।

सांसद वरुण गांधी ने अपने ट्वीट में कहा कि यूक्रेन विवाद ने हजारों छात्रों को मानसिक रूप से तोड़ दिया है। एक तरफ युद्धभूमि की कड़वी स्मृतियां हैं। दूसरी तरफ अधर में लटका हुआ भविष्य। 

उनका कहना है कि हमें नियमों को शिथिल कर भारतीय संस्थानों में इन छात्र छात्राओं का समायोजन करना होगा। छात्र-छाक्षाओं और उनके अभिभावकों की चिंता, हमारी चिंता होनी चाहिए।



Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Also Like

Categories