Connect with us

Hindi

Cbi Arrests Former Nse Ceo Chitra Ramkrishna In Co Location Scam Case – एनएसई घोटाला: पूर्व सीईओ चित्रा रामकृष्ण गिरफ्तार, को-लोकेशन मामले में सीबीआई की कार्रवाई

Published

on


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Published by: Jeet Kumar
Updated Sun, 06 Mar 2022 11:35 PM IST

सार

चित्रा पर हिमालयन योगी के इशारे पर नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का संचालन करने और संवेदनशील जानकारी साझा करने का आरोप है।  

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

एक हिमालयन योगी के इशारे पर नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का संचालन करने वाली एनएसई की पूर्व सीएओ चित्रा रामकृष्ण को सीबीआई ने को-लोकेशन घोटाला मामले में गिरफ्तार कर लिया है। इसकी जानकारी एक अधिकारी ने दी।

एक दिन पहले ही विशेष सीबीआई अदालत ने पूर्व प्रबंध निदेशक (एमडी) और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) चित्रा रामकृष्ण को बड़ा झटका दिया था। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) को-लोकेशन मामले में शनिवार को कोर्ट ने उनकी अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी थी। चित्रा पर हिमालयन योगी के इशारे पर नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का संचालन करने और संवेदनशील जानकारी साझा करने का आरोप है।  

मामले में बीते दिनों सीबीआई ने एनएसई के पूर्व ग्रुप ऑपरेटिंग ऑफिसर (जीओओ) आनंद सुब्रमण्यम को चेन्नई स्थित उनके आवास से गिरफ्तार किया था और दावा किया था कि वही हिमालयन योगी हैं। आनंद सुब्रमण्यम पर आरोप है कि वह एनएसई के कामकाज में दखल देते थे। 

इसके साथ ही वह एनएसई की पूर्व सीईओ चित्रा रामकृष्ण को सलाह दिया करते थे और वह उनके इशारे पर काम किया करती थीं। चित्रा रामकृष्ण अप्रैल 2013 से दिसंबर 2016 तक एनएसई की एमडी और सीईओ थी।

चित्रा सलाहकार पहले ही गिरफ्तार हो चुके हैं
इससे पहले सीबीआई ने कार्रवाई करते हुए नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के पूर्व समूह संचालन अधिकारी और चित्रा रामकृष्ण के सलाहकार आनंद सुब्रमण्यम चेन्नई से गिरफ्तार किया गया था। आनंद सुब्रमण्यम पर आरोप है कि वे एनएसई के कामकाज में दखल देते थे। वो एनएसई की पूर्व सीईओ को सलाह दिया करते थे और वह उनके इशारे पर काम किया करती थीं।

चित्रा ने बताया था खुद को निर्दोष
गौरतलब है कि बीते दिनों से एनएसई स्कैम से संबंधित खबरें चर्चा में थी कि चित्रा रामकृष्ण हिमालय में रहने वाले किसी योगी से अपने कामकाज में मदद लेती थीं। बाद में इस तरह की खबरें आईं कि वो योगी और कोई नहीं बल्कि आनंद सुब्रमण्यम ही थे।  रिपोर्ट के मुताबिक, चित्रा ने खुद के निर्दोष होने का दावा किया था और उनका कहना है कि कोई उन्हें फंसा रहा है।

विस्तार

एक हिमालयन योगी के इशारे पर नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का संचालन करने वाली एनएसई की पूर्व सीएओ चित्रा रामकृष्ण को सीबीआई ने को-लोकेशन घोटाला मामले में गिरफ्तार कर लिया है। इसकी जानकारी एक अधिकारी ने दी।

एक दिन पहले ही विशेष सीबीआई अदालत ने पूर्व प्रबंध निदेशक (एमडी) और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) चित्रा रामकृष्ण को बड़ा झटका दिया था। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) को-लोकेशन मामले में शनिवार को कोर्ट ने उनकी अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी थी। चित्रा पर हिमालयन योगी के इशारे पर नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का संचालन करने और संवेदनशील जानकारी साझा करने का आरोप है।  

मामले में बीते दिनों सीबीआई ने एनएसई के पूर्व ग्रुप ऑपरेटिंग ऑफिसर (जीओओ) आनंद सुब्रमण्यम को चेन्नई स्थित उनके आवास से गिरफ्तार किया था और दावा किया था कि वही हिमालयन योगी हैं। आनंद सुब्रमण्यम पर आरोप है कि वह एनएसई के कामकाज में दखल देते थे। 

इसके साथ ही वह एनएसई की पूर्व सीईओ चित्रा रामकृष्ण को सलाह दिया करते थे और वह उनके इशारे पर काम किया करती थीं। चित्रा रामकृष्ण अप्रैल 2013 से दिसंबर 2016 तक एनएसई की एमडी और सीईओ थी।

चित्रा सलाहकार पहले ही गिरफ्तार हो चुके हैं

इससे पहले सीबीआई ने कार्रवाई करते हुए नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के पूर्व समूह संचालन अधिकारी और चित्रा रामकृष्ण के सलाहकार आनंद सुब्रमण्यम चेन्नई से गिरफ्तार किया गया था। आनंद सुब्रमण्यम पर आरोप है कि वे एनएसई के कामकाज में दखल देते थे। वो एनएसई की पूर्व सीईओ को सलाह दिया करते थे और वह उनके इशारे पर काम किया करती थीं।

चित्रा ने बताया था खुद को निर्दोष

गौरतलब है कि बीते दिनों से एनएसई स्कैम से संबंधित खबरें चर्चा में थी कि चित्रा रामकृष्ण हिमालय में रहने वाले किसी योगी से अपने कामकाज में मदद लेती थीं। बाद में इस तरह की खबरें आईं कि वो योगी और कोई नहीं बल्कि आनंद सुब्रमण्यम ही थे।  रिपोर्ट के मुताबिक, चित्रा ने खुद के निर्दोष होने का दावा किया था और उनका कहना है कि कोई उन्हें फंसा रहा है।



Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Also Like

Categories