Damage To Crops Due To Unseasonal Rain And Hailstorm In Haryana - हरियाणा: किसानों की बंपर फसल की उम्मीदों पर फिरा पानी, बेमौसम बरसात-ओलावृष्टि से गेहूं, सरसों और सब्जियां बर्बाद - News Box India
Connect with us

Hindi

Damage To Crops Due To Unseasonal Rain And Hailstorm In Haryana – हरियाणा: किसानों की बंपर फसल की उम्मीदों पर फिरा पानी, बेमौसम बरसात-ओलावृष्टि से गेहूं, सरसों और सब्जियां बर्बाद

Published

on


सार

भिवानी, चरखी दादरी, रेवाड़ी, महेंद्रगढ़ व झज्जर में सबसे अधिक नुकसान हुआ है। सरकार विशेष गिरदावरी कराएगी। विपक्ष ने भी मुआवजे का दबाव बनाया है।

ख़बर सुनें

पश्चिमी विक्षोभ के चलते हरियाणा में हुई बेमौसम बारिश व ओलावृष्टि से किसानों की बंपर फसल की उम्मीदों पर पानी फिर गया है। सरसों व मटर की फसल 50 फीसदी तक बर्बाद हो गई है। गेहूं की फसल को भी नुकसान हुआ है। भिवानी, चरखी दादरी, रेवाड़ी, महेंद्रगढ़ व झज्जर जिले में फसलों को सबसे अधिक नुकसान पहुंचा है।

 किसानों पर अचानक मौसम की मार पड़ने से सरकार हरकत में आ गई है। खराब हुई फसलों की विशेष गिरदावरी कराई जाएगी। विपक्षी दलों और भाजपा किसान मोर्चा के भिवानी जिला प्रभारी ने तुरंत विशेष गिरदावरी कराने और किसानों को मुआवजा देकर नुकसान की भरपाई करने का आग्रह किया है। कृषि व राजस्व विभाग भी ओलावृष्टि और बेमौसम बरसात को देखते हुए सक्रिय हो गए हैं।

कृषि मंत्री जेपी दलाल ने कृषि अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे किसानों से फसल खराब होने की शिकायतें तुरंत प्राप्त करें। सरकार फसल बीमा न कराने वाले किसानों को भी नुकसान का मुआवजा देगी। भाकियू चढ़ूनी के प्रेस प्रवक्ता राकेश बैंस ने कहा कि जिन जिलों में ओलावृष्टि से सरसों, मटर, गेहूं और सब्जियां बर्बाद हुई हैं, वहां तुरंत विशेष गिरदावरी कराई जाए।

भाजपा किसान मोर्चा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य राजेंद्र शर्मा वत्स ने कहा कि भिवानी और चरखी दादरी जिलों के कई गांवों में ओलावृष्टि भयंकर प्राकृतिक आपदा बन कर आई। सरकार इसकी तत्काल विशेष गिरदावरी कराकर 15000 की जगह 30 हजार रुपये प्रति एकड़ मुआवजा दे।

15 दिन में जारी करें मुआवजा : सुरजेवाला
भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने कहा कि सरकार ओलावृष्टि से खराब फसलों की विशेष गिरदावरी कराकर 15 दिन में मुआवजा दे। अंबाला, यमुनानगर, भिवानी, दादरी, नारनौल, गुरुग्राम, रोहतक, फतेहाबाद, सिरसा, महेंद्रगढ़, पलवल सहित प्रदेश के अनेक जिलों में किसानों का भारी नुकसान हुआ है। सरसों की बर्बाद हुई फसल के लिए 50 हजार रुपये प्रति एकड़ व सब्जियों के लिए 40 हजार रुपये प्रति एकड़ की दर से मुआवजा दिया जाए। सैलजा ने कहा कि बार-बार हो रही बारिश व ओलावृष्टि ने किसानों की कमर तोड़ दी है। अब किसान की हिम्मत जवाब देने लगी है। बीते महीनों में कम से कम 12 बार बारिश और ओलावृष्टि से किसानों की फसलों को बड़ा नुकसान पहुंचा है।

किसानों को तुरंत मुआवजा दे सरकार :  अभय सिंह चौटाला
इनेलो विधायक अभय सिंह चौटाला ने कहा कि सरकार गिरदावरी करवाकर किसानों को तुरंत मुआवजा दे। अनेक जिलों में ओलावृष्टि के कारण खेतों में ओलों की सफेद चादर बिछ गई है, जिस कारण से किसानों की तैयार गेहूं और सरसों की फसलें बर्बाद हुई हैं। किसानों के सामने आर्थिक संकट खड़ा हो गया है। खराब हुई फसलों का 50 हजार रुपये प्रति एकड़ मुआवजा दिया जाए।

विस्तार

पश्चिमी विक्षोभ के चलते हरियाणा में हुई बेमौसम बारिश व ओलावृष्टि से किसानों की बंपर फसल की उम्मीदों पर पानी फिर गया है। सरसों व मटर की फसल 50 फीसदी तक बर्बाद हो गई है। गेहूं की फसल को भी नुकसान हुआ है। भिवानी, चरखी दादरी, रेवाड़ी, महेंद्रगढ़ व झज्जर जिले में फसलों को सबसे अधिक नुकसान पहुंचा है।

 किसानों पर अचानक मौसम की मार पड़ने से सरकार हरकत में आ गई है। खराब हुई फसलों की विशेष गिरदावरी कराई जाएगी। विपक्षी दलों और भाजपा किसान मोर्चा के भिवानी जिला प्रभारी ने तुरंत विशेष गिरदावरी कराने और किसानों को मुआवजा देकर नुकसान की भरपाई करने का आग्रह किया है। कृषि व राजस्व विभाग भी ओलावृष्टि और बेमौसम बरसात को देखते हुए सक्रिय हो गए हैं।

कृषि मंत्री जेपी दलाल ने कृषि अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे किसानों से फसल खराब होने की शिकायतें तुरंत प्राप्त करें। सरकार फसल बीमा न कराने वाले किसानों को भी नुकसान का मुआवजा देगी। भाकियू चढ़ूनी के प्रेस प्रवक्ता राकेश बैंस ने कहा कि जिन जिलों में ओलावृष्टि से सरसों, मटर, गेहूं और सब्जियां बर्बाद हुई हैं, वहां तुरंत विशेष गिरदावरी कराई जाए।

भाजपा किसान मोर्चा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य राजेंद्र शर्मा वत्स ने कहा कि भिवानी और चरखी दादरी जिलों के कई गांवों में ओलावृष्टि भयंकर प्राकृतिक आपदा बन कर आई। सरकार इसकी तत्काल विशेष गिरदावरी कराकर 15000 की जगह 30 हजार रुपये प्रति एकड़ मुआवजा दे।

15 दिन में जारी करें मुआवजा : सुरजेवाला

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने कहा कि सरकार ओलावृष्टि से खराब फसलों की विशेष गिरदावरी कराकर 15 दिन में मुआवजा दे। अंबाला, यमुनानगर, भिवानी, दादरी, नारनौल, गुरुग्राम, रोहतक, फतेहाबाद, सिरसा, महेंद्रगढ़, पलवल सहित प्रदेश के अनेक जिलों में किसानों का भारी नुकसान हुआ है। सरसों की बर्बाद हुई फसल के लिए 50 हजार रुपये प्रति एकड़ व सब्जियों के लिए 40 हजार रुपये प्रति एकड़ की दर से मुआवजा दिया जाए। सैलजा ने कहा कि बार-बार हो रही बारिश व ओलावृष्टि ने किसानों की कमर तोड़ दी है। अब किसान की हिम्मत जवाब देने लगी है। बीते महीनों में कम से कम 12 बार बारिश और ओलावृष्टि से किसानों की फसलों को बड़ा नुकसान पहुंचा है।

किसानों को तुरंत मुआवजा दे सरकार :  अभय सिंह चौटाला

इनेलो विधायक अभय सिंह चौटाला ने कहा कि सरकार गिरदावरी करवाकर किसानों को तुरंत मुआवजा दे। अनेक जिलों में ओलावृष्टि के कारण खेतों में ओलों की सफेद चादर बिछ गई है, जिस कारण से किसानों की तैयार गेहूं और सरसों की फसलें बर्बाद हुई हैं। किसानों के सामने आर्थिक संकट खड़ा हो गया है। खराब हुई फसलों का 50 हजार रुपये प्रति एकड़ मुआवजा दिया जाए।



Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Also Like

Categories