Disha Salian Death Case: Police Summon Narayan Rane, His Son Nitish Rane - दिशा सालियान मामला: मुश्किल में फंसे केंद्रीय मंत्री नारायण राणे और बेटे नितेश, आज होंगे मालवानी पुलिस थाने में पेश - News Box India
Connect with us

Hindi

Disha Salian Death Case: Police Summon Narayan Rane, His Son Nitish Rane – दिशा सालियान मामला: मुश्किल में फंसे केंद्रीय मंत्री नारायण राणे और बेटे नितेश, आज होंगे मालवानी पुलिस थाने में पेश

Published

on


पीटीआई,मुंबई
Published by: संजीव कुमार झा
Updated Sat, 05 Mar 2022 02:14 AM IST

सार

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की पूर्व मैनेजर दिशा सालियान की मौत मामले में नारायण राणे और उनके बेटे को 5 मार्च को मालवानी पुलिस थाने में पेश होना होगा। 

ख़बर सुनें

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की पूर्व मैनेजर दिशा सालियान की मौत मामले में केंद्रीय मंत्री नारायण राणे और उनके विधायक बेटे नितेश राणे को 5 मार्च को मालवानी पुलिस थाने में पेश होना होगा। इससे पहले दिशा के माता-पिता की शिकायत पर प्राथमिकी दर्ज करने के बाद मालवानी थाना पुलिस ने नारायण राणे को 4 मार्च की सुबह 11 बजे बयान दर्ज कराने, वहीं उनके बेटे को तीन मार्च को पेश होने के लिए नोटिस जारी किया था। हाल ही में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में नारायण राणे ने अपने आरोपों को दोहराया था कि सालियान के साथ सामूहिक दुष्कर्म और हत्या की गई थी। लेकिन सालियान के माता-पिता ने इससे इनकार किया था। 

दोनों नेताओं के खिलाफ कई धाराओं में मामला दर्ज
मामला आईपीसी की धारा 500, 509 और सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की धारा 67 के तहत दर्ज किया गया था। एफआईआर की कॉपी में दिशा की मां ने आरोप लगाया कि उनकी बेटी को इन राजनेताओं ने बदनाम किया।  

सालियान के माता-पिता बोले- बदनाम करने वालों के खिलाफ की जाए कार्रवाई
बता दें कि दिशा सालियान के माता-पिता ने बीते बुधवार को मुंबई में महाराष्ट्र राज्य महिला आयोग (MSCW) प्रमुख से मुलाकात की और केंद्रीय मंत्री नारायण राणे, उनके बेटे नीतीश और अन्य लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी। एक अधिकारी ने कहा कि दिशा के माता-पिता वसंती और सतीश सालियन ने उपनगरीय बांद्रा में आयोग के कार्यालय में महिला आयोग प्रमुख रूपाली चाकणकर से मुलाकात की और अपनी दिवंगत बेटी के बारे में चल रही मानहानि की खबरों पर अपना दुख जताया। दिशा के माता-पिता का कहना है कि दिशा काम के दवाब मे थी इसलिए आत्महत्या कर ली।

ऑटोप्सी रिपोर्ट में दुष्कर्म की पुष्टि नहीं
महाराष्ट्र राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष रूपाली चाकणकर ने इस मामले में बयान देते हुए कहा कि ऑटोप्सी रिपोर्ट के अनुसार, दिशा के साथ दुष्कर्म नहीं किया गया था और वह गर्भवती भी नहीं थी। चाकणकर ने कहा कि दिशा सलियन के माता-पिता को केंद्रीय मंत्री नारायण राणे, विधायक नितेश राणे और इस संबंध में दिशा की मौत के बारे में झूठी और मानहानिकारक जानकारी देने के लिए सभी संबंधितों के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए। चाकणकर ने ट्विटर के माध्यम से अपील करते हुए कहा कि सालियान की मौत के मामले में सोशल मीडिया पर बनाए गए लाखों फर्जी खातों को बंद किया जाना चाहिए और उसके बारे में गलत जानकारी को तुरंत हटाया जाना चाहिए। रूपाली चाकणकर ने एक और मांग करते हुए कहा कि दिशा के माता-पिता को सुरक्षा प्रदान की जाए क्योंकि उनकी जान को खतरा है। 

आठ जून 2020 को दिशा ने इमारत से कूदकर दी थी जान  
28 वर्षीय दिशा सालियान ने आठ जून, 2020 को उपनगरीय मलाड में एक ऊंची इमारत से कूदकर कथित तौर पर आत्महत्या कर ली थी, इससे छह दिन पहले 34 वर्षीय सुशांत राजपूत उपनगरीय बांद्रा में अपने अपार्टमेंट में लटके पाए गए थे।

विस्तार

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की पूर्व मैनेजर दिशा सालियान की मौत मामले में केंद्रीय मंत्री नारायण राणे और उनके विधायक बेटे नितेश राणे को 5 मार्च को मालवानी पुलिस थाने में पेश होना होगा। इससे पहले दिशा के माता-पिता की शिकायत पर प्राथमिकी दर्ज करने के बाद मालवानी थाना पुलिस ने नारायण राणे को 4 मार्च की सुबह 11 बजे बयान दर्ज कराने, वहीं उनके बेटे को तीन मार्च को पेश होने के लिए नोटिस जारी किया था। हाल ही में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में नारायण राणे ने अपने आरोपों को दोहराया था कि सालियान के साथ सामूहिक दुष्कर्म और हत्या की गई थी। लेकिन सालियान के माता-पिता ने इससे इनकार किया था। 

दोनों नेताओं के खिलाफ कई धाराओं में मामला दर्ज

मामला आईपीसी की धारा 500, 509 और सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की धारा 67 के तहत दर्ज किया गया था। एफआईआर की कॉपी में दिशा की मां ने आरोप लगाया कि उनकी बेटी को इन राजनेताओं ने बदनाम किया।  

सालियान के माता-पिता बोले- बदनाम करने वालों के खिलाफ की जाए कार्रवाई

बता दें कि दिशा सालियान के माता-पिता ने बीते बुधवार को मुंबई में महाराष्ट्र राज्य महिला आयोग (MSCW) प्रमुख से मुलाकात की और केंद्रीय मंत्री नारायण राणे, उनके बेटे नीतीश और अन्य लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी। एक अधिकारी ने कहा कि दिशा के माता-पिता वसंती और सतीश सालियन ने उपनगरीय बांद्रा में आयोग के कार्यालय में महिला आयोग प्रमुख रूपाली चाकणकर से मुलाकात की और अपनी दिवंगत बेटी के बारे में चल रही मानहानि की खबरों पर अपना दुख जताया। दिशा के माता-पिता का कहना है कि दिशा काम के दवाब मे थी इसलिए आत्महत्या कर ली।

ऑटोप्सी रिपोर्ट में दुष्कर्म की पुष्टि नहीं

महाराष्ट्र राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष रूपाली चाकणकर ने इस मामले में बयान देते हुए कहा कि ऑटोप्सी रिपोर्ट के अनुसार, दिशा के साथ दुष्कर्म नहीं किया गया था और वह गर्भवती भी नहीं थी। चाकणकर ने कहा कि दिशा सलियन के माता-पिता को केंद्रीय मंत्री नारायण राणे, विधायक नितेश राणे और इस संबंध में दिशा की मौत के बारे में झूठी और मानहानिकारक जानकारी देने के लिए सभी संबंधितों के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए। चाकणकर ने ट्विटर के माध्यम से अपील करते हुए कहा कि सालियान की मौत के मामले में सोशल मीडिया पर बनाए गए लाखों फर्जी खातों को बंद किया जाना चाहिए और उसके बारे में गलत जानकारी को तुरंत हटाया जाना चाहिए। रूपाली चाकणकर ने एक और मांग करते हुए कहा कि दिशा के माता-पिता को सुरक्षा प्रदान की जाए क्योंकि उनकी जान को खतरा है। 

आठ जून 2020 को दिशा ने इमारत से कूदकर दी थी जान  

28 वर्षीय दिशा सालियान ने आठ जून, 2020 को उपनगरीय मलाड में एक ऊंची इमारत से कूदकर कथित तौर पर आत्महत्या कर ली थी, इससे छह दिन पहले 34 वर्षीय सुशांत राजपूत उपनगरीय बांद्रा में अपने अपार्टमेंट में लटके पाए गए थे।



Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Also Like

Categories