Russia Attack On Ukraine Continues Missiles Were Also Fired At Residential Buildings And People Picked Up Rifles - सड़क पर संघर्ष : तस्वीरों में देखें यूक्रेन का मंजर, रूस ने रिहाइशी इमारतों पर दागीं मिसाइलें, लोगों ने उठाईं राइफलें - News Box India
Connect with us

Hindi

Russia Attack On Ukraine Continues Missiles Were Also Fired At Residential Buildings And People Picked Up Rifles – सड़क पर संघर्ष : तस्वीरों में देखें यूक्रेन का मंजर, रूस ने रिहाइशी इमारतों पर दागीं मिसाइलें, लोगों ने उठाईं राइफलें

Published

on


रूसी सैनिकों ने शनिवार तड़के यूक्रेन की राजधानी कीव पर धावा बोल दिया। अफसरों ने लोगों से छिपने की अपील भी की लेकिन सड़कों पर घमासान शुरू हो गया। हालात बेहद आक्रामक हैं और देश में आम नागरिकों ने राइफलें थाम ली हैं और वे जंग को तैयार हैं। जबकि तबाही की आशंका में हजारों लाखों लोगों का पलायन भी जारी है। रोमानिया, पोलैंड, मोलडोवा स्लोवाकिया और हंगरी में शरण ले रहे हैं। 

राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने युद्धविराम की अपील कर अपने हताश बयान में कहा, देश के कई शहरों पर हमले हो रहे हैं। शनिवार को रूसी सेना ने यूक्रेन के मेलितोपोल शहर पर कब्जे का दावा किया लेकिन अभी यह स्पष्ट नहीं कि युद्ध में यूक्रेन का कितना हिस्सा किसके नियंत्रण में है। 

हालांकि यूक्रेन की रिहाइशी इमारतों पर शनिवार को मिसाइलें दागने का दावा भी यूक्रेनी प्रशासन ने किया है। इस बीच राइफल थामे यूक्रेनी सड़कों पर गोलियां चला रहे हैं। एक तेज रफ्तार बख्तरबंद वाहन से रूसियों द्वारा चलाई गई गोलियों के चलते एक नागरिक की मौत हो गई है। यूक्रेन ने 18 से 60 साल के लोगों से संघर्ष का आग्रह किया है।

ट्रेनों से खींचकर उतारे गए पलायन करते पुरुष

संयुक्त राष्ट्र की शरणार्थी एजेंसी ‘यूएनएचसीआर’ के अनुमान के मुताबिक यूक्रेन में एक लाख से ज्यादा लोगों ने घर छोड़ दिया है। एजेंसी को आशंका है कि यदि हालात और बिगड़े तो करीब 40 लाख लोग दूसरे देशों में शरण लेने मजबूर हो सकते हैं। फिलहाल यूक्रेन से पलायन कर  रहे लोग रोमानिया, पोलैंड, मोलडोवा स्लोवाकिया और हंगरी में शरण ले रहे हैं। खबरें हैं कि पुरुषों को देश की सीमा से बाहर जाने से रोका जा रहा है। कई पुरुषों को सीमा पार जाती ट्रेनों से खींचकर बाहर निकाला गया ताकि वे रूसी सेना से मुकाबला कर सकें। बच्चों और महिलाओं को पलायन करने दिया जा रहा है। 

यूक्रेन की महिला सांसद कीरा ने उठाई राइफल

यूक्रेन की रक्षा करने के लिए अब सांसदों ने भी हथियार उठा लिए हैं। शनिवार को यूक्रेन की एक सांसद कीरा रूडिक ने अपनी एक तस्वीर ट्विटर पर साझा की जिसमें वह बंदूक पकड़े हुए नजर आ रही हैं। 36 वर्षीय महिला सांसद वॉयस पार्टी की सदस्य और 2019 से सांसद हैं। 

रूडिक ने सीएनएन को बताया कि हमें कलाश्निकोव राइफलें दी गईं और अगर रूसी सेना कीव में घुसी तो हम उनसे मुकाबला करेंगे। मुझे नहीं पता कि आप सुन पा रहे हैं या नहीं लेकिन मेरे पीछे यहां गोलीबारी हो रही है। कीरा ने कहा कि यहां रुकना मेरा दायित्व है। मैंने और मेरी सहयोगी ने हथियार उठा लिए हैं। सांसद बनने से पहले कीरा स्मार्ट सिक्योरिटी कंपनी ‘रिंग’ में सीओओ थीं, जिसे 2018 में अमेजन ने अधिकृत कर लिया।

रूसी सैनिकों को रोकने के लिए पुल के साथ खुद बम से उड़ाया

रूस-यूक्रेन में जारी जंग के बीच एक यूक्रेनी बहादुर सैनिक की जमकर चर्चा हो रही है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, यूक्रेन सेना के जवान विटाली वलोडिमिरोविच शाकुन ने रूसी सैनिकों को अपने देश में घुसने से रोकने के लिए पुल के साथ खुद को भी बम से उड़ा लिया। 

दरअसल, रूसी सेना जब क्रीमिया के पास खेर्सन इलाके में तेजी से बढ़ रही थी तब विटाली ने खुद आगे बढ़कर उस पुल को उड़ा दिया जिसके जरिये रूसी सैनिक शहरी इलाके में पहुंच सकते थे। विटाली क्रीमियाई इस्तमुस पर मरीन की एक बटालियन में एक इंजीनियर था। पुल को उड़ाने का काम विटाली ने स्वेच्छा से किया है।

रोम स्थित रूसी दूतावास पहुंचे पोप, जंग पर जताई चिंता

ईसाइयों के सर्वोच्च धर्मगुरु पोप फ्रांसिस ने असाधारण पहल करते हुए रोम स्थित रूसी दूतावास जाकर यूक्रेन में जारी जंग रोकने की अपील की और युद्ध को लेकर अपनी चिंता जाहिर की। इसके बाद पोप ने यूक्रेन के एक शीर्ष ग्रीक कैथोलिक नेता को आश्वासन दिया कि वह इस युद्ध को रोकने के लिए जो कुछ कर सकते हैं, करेंगे। 

पोप की इस पहल को इसलिए असाधारण माना जा रहा है, क्योंकि आम तौर पर सभी राष्ट्राध्यक्ष और राजनयिक पोप से मुलाकात करने के लिए वेटिकन आते हैं। कूटनीतिक प्रोटोकॉल के तहत वेटिकन के विदेश मंत्री को रूस के राजदूत को तलब करना चाहिए था। लेकिन वे खुद रूसी दूतावास पहुंचे।



Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Also Like

Categories