Russia Attacked Ukraine By Land And Air And More Than 100 Deaths - द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद सबसे बड़ी सैन्य कार्रवाई: रूसी हमले में 100 से अधिक की मौत, यूक्रेन का दावा- तीन तरफ से किया गया हमला - News Box India
Connect with us

Hindi

Russia Attacked Ukraine By Land And Air And More Than 100 Deaths – द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद सबसे बड़ी सैन्य कार्रवाई: रूसी हमले में 100 से अधिक की मौत, यूक्रेन का दावा- तीन तरफ से किया गया हमला

Published

on


सार

रक्षा मंत्रालय ने भी यूक्रेन के वायु ठिकानों और सैन्य प्रतिष्ठानों पर कब्जा करने का दावा किया है। कीव से 90 किमी दूर चेर्नोबिल परमाणु संयंत्र पर भी रूस का कब्जा हो गया है।यूक्रेन ने कहा: 15 टैंक ध्वस्त, तीन हेलिकॉप्टर गिराए और रूस के 50 सैनिकों को मार गिराया

ख़बर सुनें

रूस ने बृहस्पतिवार को जल-थल और वायुमार्ग से यूक्रेन पर हमला कर दिया। यूक्रेन की सेना देश में तकरीबन हर इलाके में रूसी आक्रमण का मुकाबला कर रही है। रूसी विमान और हेलिकॉप्टर यूक्रेन के हवाई ठिकानों पर लगातार बम बरसा रहे हैं। रूस ने करीब 74 सैन्य ठिकानों और 11 हवाई ठिकानों को नष्ट करने का दावा किया है। रक्षा मंत्रालय ने भी यूक्रेन के वायु ठिकानों और सैन्य प्रतिष्ठानों पर कब्जा करने का दावा किया है। कीव से 90 किमी दूर चेर्नोबिल परमाणु संयंत्र पर भी -रूस का कब्जा हो गया है।

नागरिक उड़ानों के लिए यूक्रेन और पड़ोसियों ने बंद की हवाई सीमा
यूक्रेन ने रूसी हमलों के बाद बृहस्पतिवार को नागरिक उड़ानों के लिए अपना हवाई क्षेत्र बंद कर दिया है, जबकि यूरोप के विमानन नियामक ने सीमावर्ती क्षेत्रों में उड़ान केे खतरे देखते हुए चेतावनी जारी की है। यूक्रेन के दक्षिण-पश्चिम मोल्दोवा ने भी अपना हवाई क्षेत्र बंद कर दिया है जबकि उत्तर में बेलारूस ने कहा है कि रूसी सैन्य अभियान के समर्थन में वह अपने क्षेत्र से नागरिक उड़ानें रोक रहा है।

यूक्रेनी स्टेट एयर ट्रैफिक सर्विसेस इंटरप्राइज ने अपनी वेबसाइट पर कहा कि देश का हवाई क्षेत्र नागरिक उड़ानों के लिए बंद कर दिया गया है। फ्लाइट ट्रैकिंग वेबसाइट फ्लाइटराडार्वे ने बताया कि तेल अवीव से टोरंटो के लिए एक उड़ान वापस करनी पड़ी जबकि वारसॉ से कीव के लिए एक पोलिश एयरलाइंस की उड़ान वापस लौट आई।

यूएसएससी की आपात बैठक में आमने-सामने आए रूस-यूक्रेन
रूस-यूक्रेन संकट पर बुधवार देर रात को सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) की आपातकालीन बैठक में यूक्रेनी राजदूत सर्गेई किस्लित्य ने संयुक्त राष्ट्र में रूस के राजदूत वासिली नेबेंजिया से इस युद्ध को रोकने को कहा। बैठक के दौरान भावुक यूक्रेनी राजदूत ने कहा, युद्ध रोकना इन निकायों की जिम्मेदारी है। 15 सदस्यीय परिषद की यह बैठक रूस द्वारा यूक्रेन में सैन्य अभियान की घोषणा के तुरंत बाद शुरू हुई।

इस बैठक में यूक्रेन के राजदूत ने सुरक्षा परिषद को बताया कि रूसी राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन ने हमारे देश के खिलाफ युद्ध की घोषणा कर दी है। किस्लित्य ने कहा, यदि रूसी राजदूत वासिली नेबेंजिया जवाब देने की स्थिति में नहीं हैं तो उन्हें सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता छोड़ देनी चाहिए। उन्होंने कहा, राष्ट्रपति पुतिन, विदेश मंत्री लावरोव को बुलाओ और आक्रामकता को रोको। युद्ध अपराधियों के लिए कोई सजा नहीं है। वे सीधे नरक में जाते हैं। वहीं अपना पक्ष रखते हुए रूसी राजदूत वासिली नेबेंजिया ने कहा कि रूस केवल एक विशेष सैन्य अभियान कर रहा है। इसे युद्ध नहीं कहा जाता है।

यूक्रेन का दावा- हम पर तीन तरफ से किया गया हमला
रूसी सेना द्वारा यूक्रेन पर शुरू किए गए हमलों के दौरान जहां रूस ने दावा किया कि उसने यूक्रेन के कई हवाई ठिकाने और एयर डिफेंस ठिकानों को नष्ट कर दिया है वहीं यूक्रेन ने दावा किया कि रूसी सेना ने उस पर तीन तरफ से हमले किए हैं। इस बीच, यह भी दावा किया गया कि रूस ने यूक्रेन के दो गांवों पर नियंत्रण कर लिया है। हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हुई है।

यूक्रेन पर हुए तीन तरफा हमले बेलारूस, क्रीमिया और पूर्वी भाग के रास्ते किए गए हैं। इन हमलों में राजधानी कीव समेत कई शहरों में धमाके सुने गए। यूक्रेन में राष्ट्रपति के सलाहकार मिखाइलो पोडोल्याक ने कहा कि यूक्रेनी सेनाओं को कठिन चुनौती का सामना करना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा, हमारी सेनाएं करारा जवाब दे रही हैं और दुश्मनों का बड़ा नुकसान होना तय है। उन्होंने रूस के हमले को लेकर कहा कि इस जंग में हमारे नागरिक भी मारे गए हैं। हालांकि इस संबंध में उन्होंने कोई विवरण जारी नहीं किया गया। पोडोल्याक ने कहा, हमें इस वक्त दुनिया की जरूरत है। दुनिया के तमाम देश इस समय हमें सैन्य तकनीकी समर्थन दें। उन्होंने इसके अलावा आर्थिक मदद की मांग भी की।

हमले में रूस को भी झेलना पड़ा तगड़ा नुकसान
गोस्टोेमेल हवाई बेस को तबाह करने और इसपर कब्जा करने के लिए बृहस्पतिवार की सुबह रूस के करीब 20 हेलिकॉप्टरों ने बमों से हमला किया। हालांकि यूक्रेन ने उसके चार केए-52 एलिगेटर हेलिकॉप्टर को मार गिराया। यूक्रेन ने इनकी तस्वीरें भी जारी कीं। एक और हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त होकर आग की लपटों में घिरकर खेतों में गिर गया। देर रात तक इस हवाई बेस पर कब्जे के लिए दोनों सेनाओं में लड़ाई जारी थी।

लिथुआनिया ने घोषित किया आपातकाल
रूस के सहयोगी बेलारूस से सटी सीमा वाले नाटो सदस्य देश लिथुआनिया ने आपातकाल घोषित कर दिया। यूक्रेन संकट को देख यह आपातकाल बृहस्पतिवार दोपहर से लागू हो गया। इसके तहत हर नागरिक, उनके वाहन और सामान की जांच के अधिकार सीमांत क्षेत्रों में सुरक्षा अधिकारियों को मिलेंगे। राष्ट्रपति गितानस नौसेदा ने सीमा पर सुरक्षा बढ़ाने के भी निर्देश दिए।

तुर्की ने रूसी आक्रमण को गैरकानूनी करार दिया
 तुर्की ने यूक्रेन में रूसी आक्रमण को गैरकानूनी और अनुचित करार दिया। तुर्की विदेश मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा कि यह अस्वीकार्य है, तुर्की इसे खारिज करता है। यह हमला मिंस्क समझौते का उल्लंघन है। अंतरराष्ट्रीय कानूनों के खिलाफ है और क्षेत्र व विश्व की सुरक्षा को खतरे में डालता है। हथियारों के बल पर देशों की सीमा में बदलाव नहीं किए जा सकते।

जरूरी दवाएं और दस्तावेज बस्तों में भर कर तैयार रहें
30 लाख की आबादी वाली यूक्रेन की राजधानी कीव में मेयर ने लोगों को घरों से बिना वजह निकलने से मना किया है। आदेश है कि नागरिक अपने बस्तों में जरूरी दवाएं और महत्वपूर्ण दस्तावेज भर कर तैयार रहें, ताकि कहीं जाने की जरूरत हो तो यह चीजें साथ ले जाएं। हमले से प्रभावित कई शहरों में लोगों को समझ ही नहीं आ रहा है कि कैसी प्रतिक्रिया दें, क्या तैयारी करें।
कई हफ्तों से यूक्रेन को रूसी हमले की चेतावनी दी जा रही थी, लेकिन किसी को यकीन नहीं था कि रूस सच में हमला करेगा। कीव निवासी एलिजाबेथ मेल्निक के शब्दों में, ‘हमने कभी नहीं सोचा था ऐसे हालात बन जाएंगे।’ 

चिंता में यूक्रेन: शहरों में धुएं के गुबार, पार्कों में गोला-बारूद के अवशेष,  एटीएम के बाहर लगीं लाइनें
कई हफ्तों की चेतावनियों के बाद जैसे ही मिसाइल का एक हिस्सा खारकीव के एक अपार्टमेंट पर गिरा, यूक्रेन के लोगों को समझने में एक पल भी नहीं लगा कि युद्ध ने दस्तक दे दी है। मिखाइल सेर्बाकोव की नींद एक आवाज से टूटी। उन्होंने बताया, यह एक तोप की आवाज थी। मैं कूदा और मां को जगाने के लिए भागा तो पीछे एक धमाका हुआ। पास में ही मिसाइल गिरने से कंप्यूटर और चाय का कप धूल में लिपट गया। इसी से यूरोप के हालिया युद्ध की झलक दिख गई।

बृहस्पतिवार सुबह से ही यूक्रेन के लोगों की जिंदगी में उथल-पुथल मच गई थी। देश की विवादित सीमा रेखा के काफी अंदर शहरों से धुआं उठ रहा था। सुबह-सुबह ईंधन भराने के लिए कारों की लंबी लाइन लगी हुई थी। लोग राजधानी कीव से भाग रहे थे। वहीं, सड़कों के नीचे सब-वे में शरण लेने वालों को नहीं पता था कि उन्हें किधर जाना है।

कुछ लोग घबराए थे, जबकि कुछ चिड़चिड़ाहट में अपनी दिनचर्या के लिए तैयार यह कहते दिखे कि हम नहीं डरते, हम काम पर जा रहे हैं। बस एक अनोखी बात ये थी कि राजधानी कीव में एक भी टैक्सी नहीं थी। जिस समय एक व्यक्ति इसकी शिकायत कर रहा था, ठीक उसी समय हवाई हमले का सायरन बज उठा। कुछ लोग अपने काम पर जाने के लिए बस का इंतजार कर रहे थे, जबकि दूसरे लोग 15 किमी दूर दोनेत्स्क के एक शहर की ओर भाग रहे थे।

राजधानी कीव की मुख्य सड़क पर चिंता में डूबे लोग बार-बार अपने फोन देख रहे थे। हालांकि, इस बीच कुछ लोग अपने कुत्तों के साथ टहलते भी मिले और अपने परिचितों को हाथ हिलाकर कह अभिवादन भी कर रहे थे। एक नागरिक मैक्सिम प्रूडस्को ने बताया, हम अभी नहीं डरते, आगे देखा जाएगा। एक होटल में जहां कई विदेशी पत्रकार ठहर थे, उसे 30 मिनट के अंदर ही खाली करने का आदेश दिया गया। सामरिक महत्व को देखते हुए पूर्वी यूक्त्रस्ेन के मारियुपोल में समुद्र के किनारे अजोव को पहला बड़ा टार्गेट माना जा रहा है।

दिन चढ़ते-चढ़ते पूरे यूक्त्रस्ेन में अलार्म बजने शुरू हो गए। लोग, खाने-पीने का सामान जुटाने, एटीएम की ओर भागने लगे। खारकीव में डरे लोग बच्चों के खेलने वाले पार्क में गोला-बारूद के अवशेषों को देख रहे थे। 

उधर, कीव के मेयर विताली क्लित्स्को ने शहर के तीन लाख लोगों को घरों में रहने के साथ ही जरूरत की चीजें और दवाइयों लेकर अपने बैग पैक रखने को कहा है। कीव निवासी एलिजवेटा मेलनिक ने बताया, मैं चिंतित और डरी हूं, मुझे नहीं पता कि मदद के लिए किसे गुहार लगानी है।

विस्तार

रूस ने बृहस्पतिवार को जल-थल और वायुमार्ग से यूक्रेन पर हमला कर दिया। यूक्रेन की सेना देश में तकरीबन हर इलाके में रूसी आक्रमण का मुकाबला कर रही है। रूसी विमान और हेलिकॉप्टर यूक्रेन के हवाई ठिकानों पर लगातार बम बरसा रहे हैं। रूस ने करीब 74 सैन्य ठिकानों और 11 हवाई ठिकानों को नष्ट करने का दावा किया है। रक्षा मंत्रालय ने भी यूक्रेन के वायु ठिकानों और सैन्य प्रतिष्ठानों पर कब्जा करने का दावा किया है। कीव से 90 किमी दूर चेर्नोबिल परमाणु संयंत्र पर भी -रूस का कब्जा हो गया है।

नागरिक उड़ानों के लिए यूक्रेन और पड़ोसियों ने बंद की हवाई सीमा

यूक्रेन ने रूसी हमलों के बाद बृहस्पतिवार को नागरिक उड़ानों के लिए अपना हवाई क्षेत्र बंद कर दिया है, जबकि यूरोप के विमानन नियामक ने सीमावर्ती क्षेत्रों में उड़ान केे खतरे देखते हुए चेतावनी जारी की है। यूक्रेन के दक्षिण-पश्चिम मोल्दोवा ने भी अपना हवाई क्षेत्र बंद कर दिया है जबकि उत्तर में बेलारूस ने कहा है कि रूसी सैन्य अभियान के समर्थन में वह अपने क्षेत्र से नागरिक उड़ानें रोक रहा है।

यूक्रेनी स्टेट एयर ट्रैफिक सर्विसेस इंटरप्राइज ने अपनी वेबसाइट पर कहा कि देश का हवाई क्षेत्र नागरिक उड़ानों के लिए बंद कर दिया गया है। फ्लाइट ट्रैकिंग वेबसाइट फ्लाइटराडार्वे ने बताया कि तेल अवीव से टोरंटो के लिए एक उड़ान वापस करनी पड़ी जबकि वारसॉ से कीव के लिए एक पोलिश एयरलाइंस की उड़ान वापस लौट आई।

यूएसएससी की आपात बैठक में आमने-सामने आए रूस-यूक्रेन

रूस-यूक्रेन संकट पर बुधवार देर रात को सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) की आपातकालीन बैठक में यूक्रेनी राजदूत सर्गेई किस्लित्य ने संयुक्त राष्ट्र में रूस के राजदूत वासिली नेबेंजिया से इस युद्ध को रोकने को कहा। बैठक के दौरान भावुक यूक्रेनी राजदूत ने कहा, युद्ध रोकना इन निकायों की जिम्मेदारी है। 15 सदस्यीय परिषद की यह बैठक रूस द्वारा यूक्रेन में सैन्य अभियान की घोषणा के तुरंत बाद शुरू हुई।

इस बैठक में यूक्रेन के राजदूत ने सुरक्षा परिषद को बताया कि रूसी राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन ने हमारे देश के खिलाफ युद्ध की घोषणा कर दी है। किस्लित्य ने कहा, यदि रूसी राजदूत वासिली नेबेंजिया जवाब देने की स्थिति में नहीं हैं तो उन्हें सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता छोड़ देनी चाहिए। उन्होंने कहा, राष्ट्रपति पुतिन, विदेश मंत्री लावरोव को बुलाओ और आक्रामकता को रोको। युद्ध अपराधियों के लिए कोई सजा नहीं है। वे सीधे नरक में जाते हैं। वहीं अपना पक्ष रखते हुए रूसी राजदूत वासिली नेबेंजिया ने कहा कि रूस केवल एक विशेष सैन्य अभियान कर रहा है। इसे युद्ध नहीं कहा जाता है।



Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Also Like

Categories